fundamental vs technical analysis full information for beginners ~ Learn Forex Trading With tradingbaby.com x

fundamental vs technical analysis full information for beginners

technical analysis vs fundamental analysis
technical analysis vs fundamental analysis
 हेलो दोस्तों कैसे हो आप आज हम ऐसे टॉपिक को बात करने जा रहे हैं  हर ट्रेडर के मन में आती है कि मार्केट में से पैसा किस जरिए ज्यादा कमा सकते हैं तो आज हम उसी के बारे में ही बात करने वाले हैं.
अगर आप मार्केट में काम कर रहे हो तो आपको पता होगा कि हमें मार्केट ke trande  को पहचानने के लिए थोड़ी reserch करनी पड़ती है एक हो गया technical analysis और fundamental हम यह दो एनालिसिस करके जान सकते हैं कि मार्केट कौन सी दिशा में जाने वाला है

fundamental

how to fundamental
 fundamental
फंडामेंटल एनालिसिस मैं हमें यह जानना होता है यह कंपनी profit में है या loss में है  उसके पास बैलेंस कितना है उसके आगे के प्लान कौन-कौन से हैं वह कुछ काम कर रही है या नहीं उस कंपनी के बारे में full information *-जानने की होती हैं, कंपनी अगले  2 साल में कहां जाएगी 5 साल में कितना टर्नओवर होगा आगे चलकर कंपनी को फायदा होगा क्या नुकसान होगा क्या कंपनी का माल बिक रहा है या नहीं यह सभी प्रक्रिया को हम फंडामेंटल एनालिसिस कहते हैं फंडामेंटल एनालिसिस में कंपनी की न्यूज़ आने वाली है तब भी बहुत से लोग पोजीशन लेते हैं और ज्यादातर लोग
31`जिस में इन्वेस्टर 2 साल का 5 साल का 10 साल का डाटा लेकर एनालिसिस करता है और वह फंडामेंटल के आधार पर इन्वेस्टमेंट करता है फंडामेंटल एनालिसिस वह लोग ज्यादा करते हैं जो लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट करते हैं उसमें 1 साल के लिए भी हो सकता है 2 साल 5 साल 10 साल इस तरीके से लोग फंडामेंटल एनालिसिस के आधार पर अपना पोजीशन लेते हैं अगर आप लॉन्ग टीम के लिए इन्वेस्ट करना चाहते हो तो ये करना बहोते जरूरी हो जाता हे 
और आगे हम आपको ये बे बतायेगे के आपको कहा से डाटा लेना हे एनालिसिस के लिए , 

फंडामेंटल एनालिसिस जानने के लिए आप कंपनी की oficial website me  जा सकते हो Google में ऐसी बहुत सारी वेबसाइट है वहां से भी आईडिया ले सकता हूं और  काम कर सकते हो अब हम टेक्निकल एनालिसिस पर आते हैं


technical analysis

technical analysis
technical analysis
दोस्तों अगर आप शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट करना चाहते हो जैसे कि एक दिन 2 दिन 1month ट्रक का इन्वेस्टमेंट करना चाहते हो   तो टेक्निकल एनालिसिस आप कर सकते हो इसमें कंपनी के फंडामेंटल देखने की ज्यादा जरूरत नहीं पड़ती आप सिर्फ कंपनी के चार्ट देखकर एक आईडिया लोगे  स्टॉक ऊपर जाएगा या नीचे जाएगा और ज्यादातर लोग टेक्निकल एनालिसिस करके ट्रेडिंग करते हैंमैं आपको टेक्निकल  एनालिसिस के बारे में ज्यादा बताऊंगा क्योंकि यह समझने के बाद  आप फंडामेंटल एनालिसिस ना करो तो भी चलेगा और यह सीखने के बाद आप कोई भी मार्केट में काम  कर सकते हो इसमें ज्यादातर हैं चार्ट को  देखना पड़ता है क्योंकि इसमें जो japanese candlestick patternsबनता है  उसके Idea से हम मार्केट के मूवमेंट को जान सकता है 1 घंटे में मार्केट कहां जाएगा वैसे ही 1 दिन में कहां जाएगा  ऊपर जाएगा ke नीचे जाएगा इस प्रक्रिया को टेक्निकल एनालिसिस कहता है



यह प्रक्रिया को करने के लिए हमें यह सब देखना पड़ता है


price trend analysis

इसमें हमें यह जानना पड़ता है की मार्केट KA traend  कौन सा है buy ya sell ka यह हमें जानना पड़ता है क्योंकि इस मार्केट में हमें पैसा कमाना है तो हमें trend ko follow  करना बहुत जरूरी है मैं यह किस लिए बोला इस उदाहरण से समझ लीजिए

Exmp
जब ज्यादातर लोग buy  करते हैं तो मार्केट ऊपर जाता है यानी कि ye  यह Trend ka मार्केट है तब हमें sell नहीं करना है क्योंकि मार्केट तो buy  मैं चल रही है उसे तरह मार्किट निचे जा रही हो तो वो मना जाता हे के मार्किट  sell downtrend ka है तब हमें buy नहीं करना है हमें हमेशा trend  के साथ चलना है



supply and demand


यह सारा खेल सप्लाई और डिमांड के नियम को फॉलो करता है
अगर मार्केट में सप्लाई और डिमांड ज्यादा है तो उसके  अंदाजे से हम पता कर सकते है की मार्केट कौन से दिशा में जाने वाला है मैं आपको एक उदाहरण से समझाता हूं
Exmp
जब सप्लाई ज्यादा होगा और  डिमांड कम होगा तब भाव नीचे जाएगा मतलब मार्केट नीचे जाएगा
और डिमांड ज्यादा होगी और सप्लाई कम होगी तो मार्केट में पड़ जाएगा

support and resistance



सपोर्ट एंड रेजिस्टेंस से मार्केट  रिवर्स हो जाता है अगर मार्केट ऊपर से नीचे आ रहा है और नीचे  कोई सपोर्ट है तो मार्केट उस सपोर्ट को टच कर के ऊपर जाएगी उसी तरह रेजिस्टेंस  मार्केट नीचे से ऊपर जा रहे हैं और ऊपर कोई रेजिस्टेंस   होता है तो मार्केट उससे टच कर कर नीचे आएगी क्योंकि सपोर्ट एंड रेजिस्टेंस के पास बहुत से लोग buy and sell  करते हैं जिसे मार्केट ऊपर या नीचे जाता है

channel trading

दोस्तों मैंने जैसे ऊपर जो जो टॉपिक के  बारे में मैंने बताया अब हम उसे कब यूज करें उसके बारे में मैं बात करता हूं
सारी मार्केट चैनल पर चलती है  चैनल को रिस्पेक्ट करते हुए चलते हैं चाहे वह ऊपर जाती हो या नीचे आती हो वह चैनल को रिस्पेक्ट करेगी मैंने चार्ट आप को दिखाया है वह देखकर आप समझ सकते हो
channel trading
channel trading

सारी मार्केट आई इसी तरीके से चलते हैं और टेक्निकल एनालिसिस से हम मार्केट  कहां जाने वाली है वह जान सकते हैं
और तो और मैंने जैसे ऊपर बताया सप्लायर डिमांड  सपोर्ट एंड रेजिस्टेंस सारे फार्मूले इसके अंदर आ जाते हैं
अब आप को ये जानना हे के आपको किस तरह से ट्रेडिंग करने हे long team me काम करना हे या short term me  अगर आप long  में जाना चाहते हो तो आप   fundamental करो or short team me में जाना चाहते हो तो technical karo अब आपको पता चल गया होगा कि कौन सा  रास्ता अच्छा है आपके लिए तो दोस्तो आशा करते हैं कि यह इंफॉर्मेशन आपको  काम में आएगी अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा तब कमेंट जरूर करें और हो सके तो थोड़ा शेयर भी कर दे

हमारी वेबसाइट में आपको ट्रेडिंग एजुकेशन दिया जाएगा वह भी फ्री में तो आप हमारी वेबसाइट को विज़िट करते रहें





Previous
Next Post »